Friday, February 27, 2009

कार्टून : ११,५०० पृष्ठों का आरोप-पत्र.... कसाब की तो खैर नही

बामुलाहिजा
cartoon by kirtish bhatt

5 comments:

Anand Nirmal Jain said...

भारी मजाक !

जनाब को आरोप - पत्र के नीचे कुचलने की सजा क्यों नहीं सुनाई जाए !

संजय बेंगाणी said...

आरोपपत्र साथ लेकर घुमने की सजा सुनाई जाय. बेचारा यूं ही मर जाएगा :)

seema gupta said...

" ha ha ha ha ha ha aarop patr ka bojh hi itna jyada ho gya....bechara ksaab...ek trf kuaan ek trf khai..."

Regards

Unknown said...

wah

Unknown said...

wah