Friday, May 2, 2008

कार्टून : दर्द - ऐ - महंगाई...

बमुलाहिज़ा




Cartoon by Kirtish Bhatt



7 comments:

Anonymous said...

See Please Here

राजीव रंजन प्रसाद said...

कीर्तिश जी,

तीखे और गहरे व्यंग्य हैं...

***राजीव रंजन प्रसाद

Gyan Dutt Pandey said...

कितना अच्छा तरीका। जब तक मंहगाई नापेंगे, तब तक अर्थव्यवस्था मन्दी से निकल कर उछाल में चली जायेगी। दिस इज मैनेजमेण्ट बाई मेजरमेण्ट! :)

Arun Arora said...

किस महंगाई की बात कर रहे है जी, वो मर्सीडीज महंगी हो गई क्या ?
बाकी सारा सामान तो सस्ता हुआ है किसी भी मंत्री से पूछ लो जी :)

Udan Tashtari said...

मारक!!

अविनाश वाचस्पति said...

महंगाई कार्टूनों में भी
पहुंच चुकी है
महंगाई का नाम भी
बढ़ रहा है
पहले लंबाई ही
बढ़ती थी
अब महंगाई
मोटी भी हुई जा रही है
उस पर भी नेताओं की
संगत असर दिखला
रही है.

सागर नाहर said...

नेताओं को महंगाई कब से सताने लगी? :)