Friday, January 11, 2008

टाटा की कार और मेरे कार-टून

टाटा की नेनो कार को लेकर आज नईदुनिया में मेरे आधा पेज भरकर कार्टून छपे हैं उन्हीं में से कुछ यहाँ आपके लिए.......

























Cartoons by : Kirtish Bhatt

18 comments:

समयचक्र said...

बहुत बढ़िया भाई आनंद आ गया बहुत मजेदार है

Unknown said...

बहुत खूब सोचा आपने

mamta said...

अब ये दिन दूर नहीं। :)

Srijan Shilpi said...

गज़ब ! कमाल के कार्टून ....

संजय बेंगाणी said...

वाह वाह बहुत ही मजेदार.

नितिन | Nitin Vyas said...

बहुत बढ़िया

Sanjeet Tripathi said...

वाकई शानदार!!
मान गए आपको!!

Shiv Kumar Mishra said...

अद्भुत 'कार-टून'.....

अजीत भाई से पूछने पर शायद पता चले कि 'कार-टूनिष्ट' शब्द की उत्पत्ति के पीछे क्या कारण थे......:-)

रवि रतलामी said...

बहुत बढ़िया. आप अपनी पोस्टों के शीर्षक भी इसी तरह दिया करें तो बेहतर होगा. आमतौर पर आज का कार्टून या सप्ताह का कार्टून जैसे शीर्षकों से उत्कंठा नहीं बढ़ पाती है.

Gyan Dutt Pandey said...

बहुत लाजवाब हैं ये सभी कार-टून।

ALOK PURANIK said...

झक्कास।

राजीव तनेजा said...

वाह जनाब!...कार को भी आपने टून में बदल डाला ....

आने वाले समय को चेताते आपके लाजवाब कार-टूनज़ ....

मज़ा आ गया जी फुल्ल फुल्ल...

सागर नाहर said...

आज तो मुस्कुराहट के बजाय़ जोर से हंसी आ गई.. मजा आ गया।
मैं भी सोच रहा हूँ एकाद ले ही लूं.. अपनी साईकिल के बदले में।

Shailendra said...

जब इतनी सारी कार सड़क पर आ जायेगी तो सब कार टून्स हो जायेगे.

Shuaib said...

SABSE BADHIYA
1) "BHAGVAN KE NAM PER"
2) "TRAFFIC JAM ! NO PROBLEM"
3) "LATE AANE KA BAHANA"
BAKI SABHI ACHE HAIN

SHUAIB
http://shuaib.in/chittha

Tarun said...

kirtish bhai, aapka to pata hi aaj chala, saath hi ye bhi pata chala ki ye aapke banaye cartoon hain jo humne apne blog me post kiye thai. Bahut hi majedaar hai. Ab cartoonist ka pata chal gaya hai to aapka naam credit me laga diya jaayega.
Ek baar phir bahut khoob, waise aapk cartoon ke corner me koi signature kyon nahi karte, pehchaan bani rehti hai.

Kirtish Bhatt said...

तरुण भाई आपके प्रोत्साहन के लिए आभारी हूँ. रही बात सीग्नेचर की तो वह तो रोज़ रहता है, बस ये टाटा के कार्तूंस स्पेशल पेकेज के साथ आधे पेज में एक साथ छपे थे. जिस पर ख़बर के साथ लिखा गया था की हमारे कार्टूनिस्ट किर्तिश की नज़र में टाटा की कार. इस कारण से इनमे नाम नहीं लिखा गया था और जल्दबाजी में मैंने उन्ही फाइल को अपलोड कर दिया.

Anita kumar said...

बहुत खूब जी ! हमने तो आज ही देखे